Mohabbat Ka Amal Karne Ka Tarika

Mohabbat Ka Amal Karne Ka Tarika

Mohabbat Ka Amal Karne Ka Tarika

Mohabbat Ka Amal Karne Ka Tarika, “Love is such a word, on hearing which a person’s heart becomes happy. The heart starts getting peace and peace. In olden times people used to love each other wholeheartedly. But today in the name of love, a person is deceiving a person from afar.

Some people use Rohini Amal to get your love. In order to make someone their own, they find out from the book of spirituality. But they do not have any information about the implementation of love. So today you do not have to worry. Because today we will tell you the practice of love. And will also tell you how to implement love.

Love is a combination of two relationships. It is the union of two souls. Many people in the world go to great lengths to get someone’s love. Some get true love, then some spend the rest of their life by taking the support of a broken day. That’s why I’m so afraid to fall in love with someone.

Mohabbat Ka Amal Kaise Kare

When a person gets the act of love. So their biggest problem remains that, how to implement love. Some people practice love with syphilis and black magic. Or he gets it executed by some such magician. After doing what we will tell you about the practice of love today, your lover will start yearning for you.

  • This practice is for 3 days, and the implementation is very easy, you will not have to put much effort in it.
  • Amal can be a wife for her husband, girlfriend for her lover and sister for her brother.
  • During the days of practice, you have to be very clean, for that you can keep it for 3 days daily.
  • If this practice is done on the photo, then for that in whose heart you have to create love. You must have a photo of him.
  • After Isha, this practice can be done at any time.
  • First of all, you have to keep the photo of your lover in front. If the photo is in the mobile, then keep the mobile in front of you.
  • After that first and last one time Durood-e-Pak and in the middle of it Aa Mauakkal Jaa Mauakkal Ghar Ghar Kal Mauakkal 251 times to read.
  • After doing this, without talking to anyone, go to your bed and go to sleep.

This practice is noori practice, so use this practice only for legitimate purposes. Amal can also be done for marriage. Your love should be true and deep. This practice can also be done to convince an angry person.

मोहब्बत एक ऐसा शब्द है, जिसको सुन कर ही इंसान का मन खुशनुमा हो जाता है। दिल को सकून और चैन मिलने लग जाता है। पुराने समय में लोग एक दूसरे से मोहब्बत दिल से करते थे। लेकिन आज मोहब्बत के नाम पर एक इन्सान दूरसे इन्सान को धोखा ही दे रहा है।

कुछ लोग आपनो की मोहब्बत पाने के लिए रोहानी अमल का इस्तेमाल करते है। वो किसी को अपना बनाने के लिए रूहानियत की किताब से अमल तो पता कर लेते है। लेकिन उनने मोहब्बत का अमल करने के बारे बिलकुल भी जानकारी नहीं होती है।इसलिए आज आपको परेशानी होने की जरुरत नही है। क्योंकि आज हम आपके लिए मोहब्बत का अमल बतायेगे। और मोहब्बत का अमल करने का तरीका भी आपको बताएंगे।

मोहब्बत दो रिश्तो का मेल है। दो रूहों का मिलन है। दुनिया में बहुत सारे लोग किसी की मोहब्बत हासिल करने के लिए बहुत कुछ कर जाते है। किसी को सच्ची मोहब्बत नसीब हो जाती है, तो कोई टूटे दिन का सहारा लेकर अपनी बाकी की ज़िन्दगी गुज़ार देता है। इसलिए किसी से मोहब्बत करने से इतना डरता है।

मोहब्बत का अमल कैसे करे

जब किसी इंसान को मोहब्बत का अमल मिल जाता है। तो उनकी सबसे बड़ी परेशानी यह ही रहती है, की मोहब्बत का अमल कैसे करे। कुछ लोग मोहब्बत का अमल सिफलि इल्म और काला जादू से करते है। या फिर वो किसी ऐसे जादूगर से अमल करवाते है। जो आज हम आपको मोहब्बत का अमल बतायेगे, उसको करने के बाद आपका महबूब आपके लिए तडपने लग जायेगा।

  1. यह अमल 3 दिन का है, और अमल बहुत ही आसान है, इसमें आपको ज्यादा मेहनत भी नहीं करनी पड़ेगी।
  2. अमल को बीवी अपने शौहर के लिए, प्रेमिका अपने प्रेमी के लिए और बहन अपने भाई के लिए कर सकती है।
  3. अमल के दिनों में आपको बिलकुल पाक साफ़ रहना है, उसके लिए आप चाहे तो 3 दिन रोज़ भी रख सकते है।
  4. इस अमल को फोटो पर किया जाता है, तो उसके लिए आपको जिसके दिल में मोहब्बत पैदा करनी है। उसका एक फोटो आपके पास होना जरुरी है।
  5. ईशा के बाद इस अमल को किसी भी समय में कर सकते है।
  6. सबसे पहले अपने महबूब की फोटो सामने रख लेनी है। अगर फोटो मोबाइल में हो, तो मोबाइल को अपने सामने रखे।
  7. उसके बाद पहले और आखिर 1 बार दुरूद ए पाक और उसके बीच में आ मौअक्कल जा मौअक्कल घर घर कल मौअक्कल 251 बार पढ़ना है।
  8. अमल करने के बाद बिना किसी से बात किये हुए, अपने बिस्तर पर जा कर सो जाना है।

यह अमल नूरी अमल है, इसलिए इस अमल को सिर्फ जैयाज़ मक़सद के लिए इस्तेमाल करे। अमल को शादी के लिए भी कर सकते है। बस आपकी मोहब्बत सच्ची और गहरी होनी चाहिए। यह अमल किसी रूठे हुए इंसान को मानाने के लिए भी कर सकते है।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *